पीपली | Pipli | Superhit Rajasthani Song 2019 | Seema Mishra | Veena Music Rajasthan | Kurjan. Pipli Original Rajasthani Song गाने को बिना share किए आप रह ही नहीं सकते। Pipli Original Rajasthani Song 2019 इतना share कीजिए कि सब राजस्थान की शान का गुणगान करने लग जाए। गीत के बारे में चंद शब्द – पुराने समय में जब राजस्थान में जीविकोपार्जन की स्थितियां बहुत कठिन थी। Rajasthani Song 2019 पुरुषों को बेहतर कमाई या नौकरी के लिए दूसरे प्रांतों में बहुत दूर जाना होता था, संचार व यातायात के साधनों का भी आभाव था। जिससे सन्देश भी समय पर नहीं पहुंच पाते थे। एक प्रवास भी कई बार 8 से 10 वर्ष का होता था। प्रवास की ये बेला जब अपनी सीमाएं पार करने लगती थी तो विरह में तड़पती नारी अपने मन की भावनाओं को गीतों के बहाने गाती थी। पुरूष भी इन्हीं गीतों के सहारे पत्नी के वियोग को अनुभव करते थे। “पीपली” Rajasthani Song 2019 “वीणा” का एक बहुत ही प्रचलित विरह गीत है। इस गीत में पुरूष की धनलिप्सा से आहत नारी की करूण भावना है। Rajasthani Song 2019, New Marwadi Song गीत के पीछे का सुंदर रिश्ता – अपने परिवार को छोड़कर जब एक स्त्री अपना नया संसार बसाती है तो उस संसार की नींव उसका पति ही होता है। Rajasthani Song 2019 उन दोनों के बीच का प्रेम मानो इन सांसारिक बंधनो से बहुत परे होता है।और जब ऐसी मधुर बेला में एक नवविवाहिता को किन्हीं कारणों से अपने पति से दूर होना पड़े तो ये तो मानो प्यासे से पानी छीन लेने जैसा है। Rajasthani Song 2019 और यही विरह की भावना जो ना जाने कितने विवाहित जोड़ों ने सही है उनकी ही भावनाओं की एक बहुत सुंदर प्रस्तुति “वीणा” ने अपने गीत के माध्यम से दी है। गीत का सम्पूर्ण अर्थ – गीत में गोरी विरह वेदना से तड़प रही है और कह रही है कि वो जो पीपल का वृक्ष आप लगा कर गए थे वो अब बहुत ही घना और बड़ा हो चुका है। Rajasthani Song 2019 जब उसकी छांव में बैठेने का वक्त आया तो आप यहां से जा रहे हो। अपने मन से ना जाने क्या क्या लालच देकर गोरी साजन को जाने से रोकने की हर कोशिश कर रही है। गोरी साजन को कह रही है कि जिसे आप सात फेरों के बंधन से बांध कर लाये हो उस के रूप को निहारने का तो अब वक्त आया है और आप ऐसे वक्त में उसे अकेला छोड़कर जा रहे हो। दुःख और विरह में बिलख ती गोरी साजन से सवाल कर रही है कि किसने आपको जाने की अनुमति दी है किससे पूछकर आप प्रदेश जा रहे हो और ये सब कहते वक्त गोरी सजना को प्रेम से अपने हिवड़े का हर कह कर पुकार रही है ,और बार-बार यही कह रही है कि आप परदेश मत जाओ। विरह के दुःख में गोरी को कोई खबर नहीं है कि वो क्या कह रही है बस वो अपने भरे हुए गले से गीत का गान कर रही है और साजन को कह रही है की आप चंद पैसे कमाने के लिए मुझें छोड़कर जा रहे हो । अगर आपकी इजाजत हो मुझें तो मैं आपके लिए मोहर (सोने का सिक्का) भी बन जाऊं पर आप मुझें यूं अकेला छोड़कर मत जाओ मुझे अपने साथ लेकर चलो। गौरी की ये दशा देखकर उस वक्त साजन पर क्या बीतती होगी हम उस वेदना का अनुमान भी नहीं लगा सकते हैं। जब ये विरह वेदना कभी क्रोध में बदलती है तो गोरी अपने साजन पर इल्जाम लगाने लगती है अपना मन बहलाने को उन्हें बुरा भला कहने लगती है और गौरी कहती है कि मेरे लिए तो कभी आप एक चुंदडी तक नही लेकर आये और ना ही कभी मुझसे मेरे मन की बात पूछी | गोरी की वेदना जितनी सुनने में हमें मीठी लग रही है उतनी ही कठोर स्थिती में गोरी रही होगी। गौरी अपने साजन को घर लौट आने और घर में ही काम करने का सुझाव भी देती है और बार-बार यही कहती है कि अब तो आ जाओ 12 महीने बीत गए सारे तीज-त्यौहार निकल गए अब तो घर की ओर लौट आओ। Rajasthani Song 2019 Rajasthani Song 2019 सभी तरीके आजमाने के बाद जब गोरी थक जाती है उसे कुछ समझ नहीं आता तो वो गीत के अंत में साजन को बहुत गहरे शब्द कह जाती है। गोरी साजन को कह रही है की भँवर एक बार निर्धन के घर में धन वापस आ सकता है उजड़े हुए खेतों में फिर से फसल खिल सकती है पर एक बार जो जोबन बीत जाता है वो लौटकर कभी नहीं आता मैं आपको लिख-लिख कर थक गई हूं आपके विरह में अपनी स्थिती आपको बता-बता कर थक गईं हूँ पर आपको मेरी कोई फ़िक्र ही नहीं है। मुझें अब आप से मिलकर ही चैन मिलेगा लौट आइये। Rajasthani Song 2019 अपनी विरह की वेदना में गोरी पूरे एक वर्ष का अपना हाल साजन को गा कर बता रही है “वीणा” के गीत “पीपली” में आप लोग गीत को सुनिए और उसके बोलों में जो तड़प जो दुःख छुपा है उसे समझने उसे महसूस करने की कोशिश कीजिए तभी आप गीत का असली आनंद उठा पाएंगे। Song Name : Peepli Album Name : Kurjan Singer : Seema Mishra Music Director : Nirmal Mishra Producer : K.C. Maloo

Leave a Comment on पीपली | Pipli | Superhit Rajasthani Song | Seema Mishra Song | Veena Music Rajasthan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *